Home / 2020 / Pati Door Tha Song Mp3 Download Khesari Lal Yadav X Antra Singh Priyanka 2020

Pati Door Tha Song Mp3 Download Khesari Lal Yadav X Antra Singh Priyanka 2020

New Song Pati Door Tha Mp3 Download By Khesari Lal Yadav X Antra Singh Priyanka 2020. All Latest Bhojpuri Songs Like Pati Door Tha Mp3 Download in 320Kbps, 192Kbps & 128Kbps By Indian Artist Khesari Lal Yadav X Antra Singh Priyanka, Music by Shyam Sundar, Lyrics by Akhilesh Kashyap, Label Aadishakti Films. Also Listen on YouTube.

Pati Door Tha Song Khesari Lal Yadav X Antra Singh Priyanka

Pati Door Tha Song Mp3 Download

Download Pati Door Tha Mp3

Pati Door Tha Lyrics Khesari Lal Yadav X Antra Singh Priyanka

हेलो ..!
हां हेलो !
का करतारु हो ?
आ हई बलावा काहे खउराईल बा ?
आ हउ रजाईया में से कउन एकरा बहिनी के ….!
के …? कहाँ केहू ….?
केहू ना हs !
हम आन्हर हई अनंजईया खानी ?
मारे लागब अभिये..!
पता ना कवन था !

बात के बतंगड़ बनावतारs हो
चरितर पs अंगुली उठावतारs हो
बतंगड़ ना बनाई तs लंगड़ हो जाई ?
ऐ यू आर करिंग माई बेईज्जती ..!
चुप ..!
बात के बतंगड़ बनावतारs हो
चरितर पs अंगुली उठावतारs हो
अरे हउ पर्दावा कईसे हिलता रे ?
उसको छोड़िये बात को मोड़िये
वो तो जोरो का झोंका पवन था
रजाई में गैस बना दिया था जानू
कोई नहीं था
हउ जवन निकलल हs तवन बड़ेरा हs का ?
मेरे भईया का फ्रेंड था !
ओ … शी बुझतारी ..?
यस !
शुरू से ही तेरा बिगड़ा रहन था
हाय दईया माँ जी …!
सच्ची सच्ची बता दे की रजाई में कवन था
शुरू से ही तेरा बिगड़ा रहन था
सच्ची बता दे की रजईया में कवन था
मेरे भईया का फ्रेंड था !
बुरबक बुझतारु ..!
मारेंगे अभिये !
जानू जाने दो ना !
जाए दी आ ओकरा के खाये दी ?

[म्यूजिक..]

तुहि हवs तुहि रहबs धड़कन परान हो
अईसे जनि करs सईया सेनुर के अपमान हो
ह …! यू आर भेरी गन्दा !!
बोलs के करत रहे गोदिया में आराम
तकिया नs था !
अरे हमरा के बुझेलू का झंडू बाम
ह ह ह ह ह ह …!
समझाउंगी बतलाऊँगी मेरा तो बिलकुल न मन था
बिलीभ मी ..! या ! या !
बोलबू इंग्लिश ?
शुरू से ही तेरा बिगड़ा रहन था
मेंशन नॉट …!
सच्ची सच्ची बता दे की रजाई में कवन था
शुरू से ही तेरा बिगड़ा रहन था
सच्ची बता दे की रजईया में कवन था

[म्यूजिक..]

बिना जनले बिना सुनले आहे पs गरई धरतारs
काहे ऐ अखिलेश सजनवा वीडियो कॉल पs लड़तारs
देखिये हम लुछ जायेंगे …!
धोखा देत बाड़ीस ते अपना खेसारी के
आ …!
तोके दे देब तलाक रोईहे दंतवा चियारी के
ऐ ……!
सखी के सईया आये बिन चईया के
वो लेटे थे चाय न गरम था
पहिले से बनल था लेकिन गरम नहीं था !
तुमको समझाना पति का धरम था
छो क्यूत …!
अभी मैंने जाना रजाई में कवन था
जिओ रे कश्यप !
तुमको समझाना पति का धरम था
अभी मैंने जाना रजाई में कवन था
अरे रन्डम मचा के बजाव लोग का फेर में पड़ल बाड़s
अब रजाई नॉट अलाउड अगिला महीना से पुवारा पs सूत
आदमी बन जईबे !

Leave a Reply